स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी के 10 बड़े ऐलान

1
2422
Spread the love

पीएम मोदी ने लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ लोहा लेने वाले भारत के वीर सपूतों को याद किया और कहा कि लद्दाख में दुनिया ने देख लिया कि भारत अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए क्या कर सकता है। इस दौरान पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से 10 बड़े ऐलान किए।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से तिरंगा फहराकर सातवीं बार राष्ट्र को संबोधित किया। पीएम मोदी ने लाल किले से अपने भाषण की शुरुआत कोरोना महामारी की लड़ाई लड़ रहे कोरोना योद्धाओं को यादकर की। उन्होंने लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ लोहा लेने वाले भारत के वीर सपूतों को याद किया और कहा कि लद्दाख में दुनिया ने देख लिया कि भारत अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए क्या कर सकता है। इस दौरान पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से 10 बड़े ऐलान किए।

हर भारतीय को हेल्थ कार्ड देने वाली नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन जैसी बड़ी योजना के तत्काल प्रभाव से शुरू होने की उन्होंने घोषणा की। देश में कोरोना वैक्सीन कब आएगी के बारे में भी प्रधानमंत्री मोदी ने देश को बताई। लाल किले की प्राचीर से सुबह साढ़े सात से नौ बजे तक करीब डेढ़ घंटे लंबे भाषण के दौरान जानिए प्रधानमंत्री मोदी ने कौन से दस प्रमुख ऐलान किए।

स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी के 10 बड़े ऐलान
  1. कोरोना वैक्सीन: प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देश को बताया कि आज भारत में कोराना की एक नहीं, दो नहीं, तीन-तीन वैक्सीन्स इस समय टेस्टिंग के चरण में हैं। उन्होंने कहा कि जैसे ही वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी, देश में उन वैक्सीन्स की बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन की भी तैयारी है।
  2. जम्मू कश्मीर में चुनाव जल्द: पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को लेकर भी बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा, “हमारे देश में अलग-अलग जगहों पर विकास की तस्वीर अलग-अलग दिखती है। जम्मू कश्मीर की एक नई विकास यात्रा का साल है। ये एक साल जम्मू कश्मीर में महिलाओं, दलितों को मिले अधिकारों का साल है।” उन्होंने कहा, “जम्मू-कश्मीर में डिलिमिटेशन का काम चल रहा है। हम सभी चाहते हैं कि जल्दी से यह प्रक्रिया पूरी हो, जिसके बाद जल्दी से चुनाव हों, विधायक और मंत्री भी जम्मू-कश्मीर क्षेत्र से चुनकर आएं।”
  3. नई साइबर सिक्योरिटी नीति: प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में नई राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा रणनीति का मसौदा तैयार कर लिया गया है। भारत इस संदर्भ में सचेत है, सतर्क है और इन खतरों का सामना करने के लिए फैसले ले रहा है और नई-नई व्यवस्थाएं भी लगातार विकसित कर रहा है। आने वाले समय में नई साइबर सिक्योरिटी नीति लाई जाएगी।
  4. नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहला बड़ा एलान नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन को लेकर किया। उन्होंने कहा कि आज से देश में एक और बहुत बड़ा अभियान शुरू होने जा रहा है। ये है नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन। हर भारतीय को एक हेल्थ कार्ड मिलेगा। आपके हर टेस्ट, हर बीमारी, आपको किस डॉक्टर ने कौन सी दवा दी, कब दी, आपकी रिपोर्ट्स क्या थीं, ये सारी जानकारी इसी एक हेल्थ कार्ड में समाहित होगी। भारत के हेल्थ सेक्टर में यह योजना नई क्रांति लेकर आएगी।
  5. एनसीसी का विस्तार: प्रधानमंत्री मोदी ने नेशनल कैडेड कोर(एनसीसी) के विस्तार का एलान किया। उन्होंने देश को बताया कि अब एनसीसी का विस्तार देश के 173 सीमाओं और तटीय जिलों तक सुनिश्चित किया जाएगा। इस अभियान के तहत करीब 1 लाख नए एनसीसी कैडेट्स को विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें भी करीब एक तिहाई बेटियों को ये स्पेशल ट्रेनिंग दी जाएगी।
  6. लक्षद्वीप की इंटरनेट कनेक्टिविटी: प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि अगले 1000 दिन में, लक्षद्वीप को भी सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल से जोड़ दिया जाएगा। उन्होने कहाए कि हमारे देश में 1300 से ज्यादा आइलैंड्स हैं। इनमें से कुछ चुनिंदा आइलैंड्स को, उनकी भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए, देश के विकास में उनके महत्व को ध्यान में रखते हुए, नई विकास योजनाएं शुरू करने पर काम चल रहा है।
  7. हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर का जाल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंटरनेट सुविधा पहुंचाने के लिए देश के हर गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने का एलान किया। उन्होंने कहा कि आने वाले एक हजार दिन में इस लक्ष्य को पूरा किया जाएगा। साल 2014 से पहले देश की सिर्फ 5 दर्जन पंचायतें ऑप्टिल फाइबर से जुड़ी थीं। बीते पांच साल में देश में डेढ़ लाख ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा गया है।
  8. 100 लाख करोड़ का खर्च: प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पूरे देश को मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी इंफ्रास्ट्रक्चर से जोड़ने की एक बहुत बड़ी योजना तैयार की गई है। इस पर देश 100 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। अलग-अलग सेक्टर्स के लगभग 7 हजार प्रोजेक्ट्स को चिन्हित भी किया जा चुका है। ये एक तरह से इंफ्रास्ट्रक्चर में एक नई क्रांति की तरह होगा।
  9. नेबरहुड पॉलिसी के विस्तार पर जोर: प्रधानमंत्री मोदी ने पड़ोसियों के साथ रिश्तों की मजबूती और उसके विस्तार पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि हमारे पड़ोसी देशों के साथए चाहे वो हमसे जमीन से जुड़े हों या समंदर से, अपने संबंधों को हम सुरक्षा, विकास और विश्वास की साझेदारी के साथ जोड़ रहे हैं। आज पड़ोसी सिर्फ वो ही नहीं हैं जिनसे हमारी भौगोलिक सीमाएं मिलती हैं, बल्कि वे भी हैं जिनसे हमारे दिल मिलते हैं। जहां रिश्तों में समरसता होती हैए मेल जोल रहता है।
  10. मेक इन इंडिया के बाद अब ‘मेक फॉर वर्ल्ड’: पीएम मोदी ने मेक इन इंडिया के साथ ‘मेक फॉर वर्ल्ड’ का नारा जोड़ते हुए भारत को आर्थिक नीतियों में सुधार और बुनियादी ढांचे के विकास के साथ विश्व आपूर्ति श्रृंखला में विनिर्माण के एक प्रमुख केंद्र के रूप में प्रस्तुत करने का संकल्प किया। भारत की अर्थव्यवस्था पर दुनिया का भरोसा बढ़ा है। दुनिया इस शक्ति को, इन रिफॉर्म्स और उससे निकले परिणामों को देख रही है। बीते वर्ष, भारत में एफडीआई ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। भारत में एफडीआई में 18 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। ये विश्वास ऐसे ही नहीं आता है। वन नेशन-वन टैक्स, इनसाल्वेंसी और बैंकरप्सी कोड, बैंकों का मर्जर आज देश की सच्चाई है।


Spread the love

WordPress database error: [Table './riditmed_wp933/wpk5_comments' is marked as crashed and last (automatic?) repair failed]
SELECT SQL_CALC_FOUND_ROWS wpk5_comments.comment_ID FROM wpk5_comments WHERE ( comment_approved = '1' ) AND comment_post_ID = 1209 ORDER BY wpk5_comments.comment_date_gmt ASC, wpk5_comments.comment_ID ASC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here