Covid19: लॉकडाउन से भारत में बची 78000 लोगों की जान, सरकार ने बताए समय पर फैसला लेने के फायदे

48
1214
Spread the love

सरकार ने आज बताया कि दो स्वतंत्र अर्थशास्त्रियों के मॉडल में यह सामने आया है कि लॉकडाउन की वजह से भारत में 23 लाख लोग कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बच गए।

Covid19: लॉकडाउन से भारत में बची 78000 लोगों की जान, सरकार ने बताए समय पर फैसला लेने के फायदे

भारत सहित पूरी दुनिया इस समय कोरोना संकट के दौर से गुजर रही है। दुनिया भर में अब तक 5,219,962 लोग कोरोना वायसर से संक्रमित हो चुके हैं वहीं 335,108 लोग इस वायरस से जान गंवा चुके हैं। लेकिन दुनिया में सबसे अधिक सघन आबादी वाले देश भारत ने इस बीमारी से डटकर मुकाबला किया है। कोरोना संकट के तीन महीने बाद भी अमेरिका सहित दुनिया के कई देशा में महामारी से लाखों लोग संक्रमित है और हजारों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में अभी ​भी स्थिति काबू में है। इसका एक अहम कारण समय पर लिया गया लॉकडाउन का फैसला है। 

सरकार सहित कई विदेशी एजेंसियां भी समय पर लिए गए लॉकडाउन के निर्णय को लेकर भारत की तारीफ कर रहे हैं। सरकार ने आज बताया कि दो स्वतंत्र अर्थशास्त्रियों के मॉडल में यह सामने आया है कि लॉकडाउन की वजह से भारत में 23 लाख लोग कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बच गए। देश में इस महामारी से 68000 लोगों की मौत को रोक लिया गया। सरकार ने बताया कि पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन आफ इंडिया के अनुसार लॉकडाउन की वजह से देश में 78000 से ज्यादा जिंदगियां बचा ली गईं।

बता दें कि देश में लॉकडाउन लगाए जाने के तरीके और इसे हटाने को लेकर सरकार की कई पक्षों की ओर से आलोचना की जा रही थी। मौजूदा आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक 1,18,447 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं वहीं 3,583 लोगों की मौत हुई है। सरकार के अनुसार देश में संक्रमण का प्रसार सिर्फ 5 राज्यों में अधिक है। देश में आए कोरोना वायरस के 80 प्रतिशत मामले सिर्फ इन्हीं राज्यों में आए हैं। सरकार ने बताया कि लॉकडाउन लगाते वक्त जहां कोरोना की दोगुनी होने की दर जहां 3.4 दिन थी वहीं यह अब 13.3 दिन हो गई है।

Covid19: लॉकडाउन से भारत में बची 78000 लोगों की जान, सरकार ने बताए समय पर फैसला लेने के फायदे

Spread the love

48 COMMENTS

  1. Needed to write you this very small word to help thank you very much yet again with the stunning tips you have shown on this website. This is so unbelievably open-handed with you to provide without restraint what exactly numerous people would have supplied for an electronic book to help with making some profit on their own, principally since you might well have tried it in the event you wanted. Those thoughts likewise worked to become a great way to recognize that the rest have the same passion the same as my very own to see very much more with regards to this problem. I think there are thousands of more pleasurable times up front for those who start reading your website.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here